Wednesday, November 30, 2022

2-224 सेतु अवशेष छेदुकरई रामनाथपुरम तमिलनाडु


छेदु सेतु का अपभ्रंश है तथा तमिल शब्द करई का अर्थ है कोना। यहाँ पुल की आधार शिला रखी गयी थी। छेदुकरई से समुद्र में 2 कि.मी. भीतर तक जायें तो सेतु के अवशेष देखे जा सकते हैं। ये सेतु के स्तम्भ हो सकते हैं। ये सेतु समुद्र में 10-11 फुट गहरे हैं।

वा.रा. 6/21 पूरे अध्याय 6/22/48 से 87 तक, मानस 5/49/3 से 5/50/4 5/57 दोहे से 6/1/1।  

सेतु अवशेष से विलुंडी तीर्थः- छेदुकरई-थिनाइक कुलम-रघुनाथपुरम तंगचिमडम एम.डी.आर 717 /एन.एच. 49 – 53 कि.मी.

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published.