Thursday, August 18, 2022

2- 19 अक्षयवट प्रयागराज उत्तर प्रदेश


माँ सीता ने अक्षयवट की पूजा व परिक्रमा की थी। अक्षय का अर्थ है जिसका क्षय (नाश) नहीं होता।

ग्रंथ उल्लेख

मानस 2/104/4

आगे का मार्ग

अक्षयवट से यमुना घाट जलालपुरः- इलाहाबाद-किला-एम.जी.रोड- जलालपुर राष्ट्रीय राजमार्ग 2 से 12 कि.मी.

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published.