Thursday, August 18, 2022

2-167 मृग व्याधेश्वर नासिक महाराष्ट्र


लोक मान्यता के अनुसार यहाँ मारीच को बाण लगा था और उसके टुकडे़-टुकडे़ हो गये थे। यह स्थल नेफाड़ से 12 कि.मी. पूर्व दिशा में है। वा.रा. 3/44/1 से 3/44/22 तक मानस 3/26/6 से 3/27/1 तक

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published.